भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय में फर्जी शिक्षकों को ही बना दिया है विश्वविद्यालय के विज्ञान का निरीक्षक

कुलपति ऐसे व्यक्ति को तुरंत बर्खास्त करें जो शिक्षा विभाग की हंसी उड़ा रहे हैं

मधेपुरा ।

बीएनएमयू मधेपुरा में एक फर्जी प्राध्यापक को विश्वविद्यालय के विज्ञान का निरीक्षक बनाने का मामला प्रकाश में आया है ।
जानकारी के अनुसार उच्च शिक्षा के निदेशक ने विश्वविद्यालय के कुलसचिव को एक चिट्ठी जारी कर बताया है कि सर्व नारायण सिंह राम कुमार सिंह कॉलेज सहरसा में भूपेंद्र नारायण सिंह नाम के एक व्यक्ति फर्जी है जो विश्वविद्यालय में विज्ञान के निरीक्षक पद पर हैं ।दिये गए पत्र में जिक्र किया गया है कि ये अपने ही महाविद्यालय में फर्जी तरीके से बहाल हुए हैं।
विदित हो कि एसएनएसआरकेएस कॉलेज सहरसा में सोशलॉजी विभाग में 6 पद ही हैं शिक्षकों के लिए सृजित है जबकि भूपेंद्र नारायण सिंह का नाम सातवें पद पर है और अग्रवाल कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार उनका नाम भूपेंद्र नारायण सिंह नहीं बल्कि भूपेंद्र प्रसाद सिंह है।


अब प्रश्न यह उठता है कि ऐसे व्यक्ति को कुलपति ने किस आधार पर महाविद्यालय निरीक्षक बनाकर वित्तीय अनियमितता का गवाह बन रहे हैं, शिक्षा विभाग द्वारा घोर आपत्ति दर्ज करते हुए इनके वेतन में घोटाला तथा सहयोग एवं अग्रवाल कमीशन में संलिप्त लोगों को चिन्हित करने से भयंकर जालसाजी का मामला उजागर होगा।
इधर कई शिक्षकों ने यह मांग भी कर दी है कि कुलपति ऐसे व्यक्ति को तुरंत बर्खास्त करें जो शिक्षा विभाग की हंसी उड़ा रहे हैं।

कृपया पढ़ें  UP News: नोएडा में 3 साल के पोते को दादा