August 17, 2022

परमान टाइम्स

न्यूज नेटवर्क

मेगा वैक्सीनेशन कैम्प: जिले में 110 सत्र स्थलों पर कोविड टीकाकारण

1 min read
  • एक दिन में 21,970 टीका लगाने का रखा गया लक्ष्य-
  • शहरी क्षेत्र के लिए दस हजार टीका लगाने का लक्ष्य
    -शहरी क्षेत्र के लिए बनाये गये 32 सत्र स्थल : जिलाधिकारी

सहरसा, 3 जुलार्इ। राज्य सरकार द्वारा 6 करोड़ वयस्कों को 6 माह में कोविड टीका लगाने के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए जिले में आज मेगा कैम्प लगाकर कर 18 प्लस के लोगों को कोविड टीका लगाया जा रहा है। जिलाधिकारी कौशल कुमार के दिशा-निर्देश के आलोक में स्वास्थ्य विभाग द्वारा मेगा कैम्प के तहत् जिले में कुल 110 सत्र स्थलों पर कोविड-19 टीका लगाया जा रहा है। जिलाधिकारी ने कहा अब जिले के किसी भी हिस्से से कोविड वैक्सीन के प्रति किसी भी प्रकार के अफवाह मिलने की सूचना नहीं मिल रही है। कोविड- 19 टीका के प्रति लोगों में अब काफी उत्साह है। खासकर 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के युवाओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है। इस आयुवर्ग के लोग खासकर शहरी क्षेत्र में स्वयं को पंजीकृत करवा कोविड टीका लेने सत्र स्थलों पर पहुँच रहे हैं।

एक दिन में 21970 टीका लगाने का रखा गया लक्ष्य-
जिलाधिकारी कौशल कुमार ने कहा आज जिले में संचालित कुल 110 सत्र स्थलों पर सत्रवार लक्ष्य निर्धारित करते हुए कुल 21970 लोगों को कोविड टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कोविड टीकाकरण के लिए लाभार्थी का सत्यापन किया जाता है। इसमें आधार कार्ड के अलावा भी कई प्रकार के दस्तावेजों का उपयोग किया जा सकता जैसे- मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट, पेंशन पासबुक, एन.पी.आर. स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त दिव्यांगता प्रमाण-पत्र या राशनकार्ड में से किसी एक का उपयोग सत्यापन के लिए किया जा सकता है। यानि टीकाकरण सत्र पर पहुंचे किसी व्यक्ति के पास उक्त कोई भी पहचान पत्र रहे तो उनका सत्यापन करते हुए टीकाकरण किया जाय। ताकि लक्ष्य की प्राप्ति हो सके।

कृपया पढ़ें  एश्टन एगर की दोस्त को ऑनलाइन धमकी! PCB ने कही ये बड़ी बात

लक्ष्य की प्राप्ति के लिए सत्यापनकर्त्ता को भी आवश्यक निर्देश-
जिलाधिकारी कौशल कुमार ने आज लक्ष्य प्राप्ति के लिए सत्यापनकर्ताओं को भी आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किया है। उन्होंने कहा यदि किसी सत्र स्थल पर किसी वजह से ऑनस्पॉट पंजीकरण करने में देरी हो रही हो या नहीं हो पा रहा हो। ऐसी अवस्था में टीका लेने आने व्यक्ति द्वारा उपलब्ध कराये गये दस्तावेजों एवं मोबाइल नम्बर को अंकित करते हुए उन्हें टीका लगाया जाय एवं बाद में उनका पंजीकरण कोविन पोर्टल पर अवश्य करें। यह पंजीकरण भी समय रहते यथाशीघ्र किया जाय ताकि जिले की उपलब्धि समय पर पोर्टल पर परिलक्षित होने पाये।

शहरी क्षेत्र के लिए दिये दस हजार टीका लगाने का लक्ष्य-
जिलाधिकारी ने आज चलाये जा रहे मेगा कोविड वैक्सीनेशन ड्राइव के तहत शहरी क्षेत्र पर विशेष जोर देते हुए आज केवल शहरी क्षेत्र में दस हजार लोगों को कोविड टीका लगाने का लक्ष्य दिया है। एक बड़ी आबादी शहर में रहती है। इस आबादी के अधिक से अधिक लोगों को कोविड टीका लगाना जरूरी है ताकि संभावित कोरोना की तीसरी लहर से उन्हें बचाया जा सके। उन्होंने कहा कोरोना की दूसरी लहर की शुरुआती दौर में कोरोना के अधिक मामले केवल शहरी क्षेत्र से आ रहे थे। इसलिए शहरी क्षेत्र के लोगों का शत्-प्रतिशत कोविड टीकाकरण होना जरूरी है।