कोरोना काल में मानसिक स्वास्थ्य पर दिया गया प्रशिक्षण • कार्यपालक निदेशक ने विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग से दिया प्रशिक्षण

शेयर करें

 

• राज्य भर में 400 लोगों को मानसिक स्वास्थ्य पर मिली जानकारी
• क्वारंटाइन एवं आईसोलेशन सेंटर में लोगों की मानसिक स्वास्थ्य पर होगी काउंसेलिंग

सहरसा/ 20 मई: कोरोना के बढ़ते संक्रमण की बेहतर रोकथाम एवं संक्रमितों के उपचार के लिए राज्य सरकार हर स्तर पर कार्य कर रही है. कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप एवं लगातार लॉकडाउन के कारण आमजनों में मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्या उत्पन्न होने का खतरा भी बढ़ा है. इसे ध्यान में रखते हुए बुधवार को राज्य स्वास्थ्य समिति के सभागार में मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्या एवं उसके निवारण के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण का आयोजन किया गया.

सामाजिक दूरी का अनुपालन करते हुए 400 लोगों ने प्राप्त की प्रशिक्षण:
कोरोना काल में आमजनों में तनावरहित एवं सकारात्मक सोच के प्रति जागरुक करने एवं इस स्थिति में लोगों की काउंसेलिंग करने के लिए जिलों में कार्यरत प्रशिक्षित मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सक, नर्सेज, परिवार नियोजन एवं एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के परामर्शी एवं अन्य मानसिक स्वास्थ्यकर्मियों को प्रशिक्षित किया गया. सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार की अध्यक्षता में करीब 400 लोगों को विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से प्रशिक्षण प्रदान कराया गया.

क्वारंटाइन एवं आईसोलेशन सेंटर में मानसिक स्वास्थ्य पर होगी काउंसेलिंग:

कोरोना काल में आमजनों के मध्य उत्पन्न अवसाद एवं तनाव के निवारण के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति प्रयासरत है. बुधवार को आयोजित इस प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य जिलों से पंचायत स्तर तक आमजनों को मानसिक स्वास्थ्य संबंधी परामर्श एवं सलाह मुहैया कराना है. इस पहल के बाद अब क्वारंटाइन सेंटर एवं आईसोलेशन सेंटर पर भी आमजनों के मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं की काउंसेलिंग की जा सकेगी. आईजीआईएमएस के मानसिक स्वास्थ्य के विभागाध्यक्ष डॉ. राजेश कुमार, क्लिनिकल साईंक्लोजिस्ट प्रिया कुमारी एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रोफ़ेशनल ऑफिसर,मेंटल हेल्थ एंड सब्सटांस, डॉ. अत्रेयी गांगुली के द्वारा यह प्रशिक्षण दिया गया.
इस प्रशिक्षण में राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार एवं अपर कार्यपालक निदेशक केशवेन्द्र कुमार के अलावा राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी, मानसिक स्वास्थ्य, डॉ. राजेश कुमार, मानसिक स्वास्थ्य सलाहकार प्रीती वाजपेयी एवं अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी राजेश कुमार उपस्थित थे.

पैनोरमा
ग्रुप
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
error: Content is protected !!