कोविड-19 टीकाकरण पूर्ण रूप से सुरक्षित और असरदार है – कोविड-19 टीकाकरण के सफल क्रियान्वयन के लिए सामाजिक सहयोग भी जरूरी – अभी कुल तीन चरणों में होगा टीकाकरण

शेयर करें

किशनगंज , 13 जनवरी / अमन कुमार

कोविड-19 वैश्विक महामारी पर नियंत्रण के लिए जिले में 16 जनवरी से टीकाकरण कार्यक्रम के शुभारम्भ को लेकर स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन पूरी तरह सजग एवं कटिबद्ध है। वहीं, वैक्सीनेशन के सफल क्रियान्वयन के लिए सामाजिक सहयोग भी जरूरी है। ताकि वैक्सीन की सही जानकारी समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक आसानी से पहुँचाई जा सके। इधर वैक्सीन आने की खबर से लोगों में उत्साह का माहौल है। खासकर युवाओं में तो भारी उत्साह है। दरअसल, लंबे समय के बाद लोगों को कोविड-19 से स्थाई निजात की उम्मीद जगी है। किन्तु, वैक्सीन आने तक लोगों को एहतियात जारी रखना भी जरूरी है। ताकि किसी प्रकार के संक्रमण की संभावना नहीं हो। दरअसल, कोविड-19 संक्रामक बीमारी है। इसलिए, एक भी व्यक्ति दायरे में आने पर पूरे समाज को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

– सफल क्रियान्वयन के लिए सामाजिक सहयोग जरूरी :-
जिला सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया कि वैक्सीनेशन के सफल क्रियान्वयन के लिए सामाजिक सहयोग भी बेहद जरूरी है। दरअसल, कोई अभियान या अन्य किसी प्रकार की गतिविधि सामाजिक सहयोग से ही सफल होती है। इसलिए, सामाजिक सहयोग से समाज के शिक्षित युवाओं एवं बुद्धिजीवियों द्वारा वैक्सीनेशन की सही जानकारी समाज के हर तबके के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुँचाने में आसानी होगी और किसी प्रकार के अफवाहों का दौर शुरू नहीं होगा। वैक्सीनेशन को लेकर लोगों को जागरूक होने की जरूरत है।

अभी कुल तीन चरणों में होगा टीकाकरण

सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया प्रथम चरण के टीकाकरण के लिए 5 स्थलों का चयन किया गया है। जिनमें सदर अस्पताल, सामुदायिक अस्पताल बहादुरगंज, सामुदायिक अस्पताल पोठिया ,प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ठाकुरगंज और माता गुजरी मेडिकल कॉलेज शामिल हैं। इन सभी सत्र स्थलों के लिए टीका के भण्डारण की समुचित व्यवस्था पूरी कर ली गयी है| द्वितीय चरण के टीकाकरण में पुलिस के जवान, आर्मी के जवान,नगर निकाय के कर्मी, ग्रामीण एवं राजस्व विभाग के पदाधिकारी एवं कर्मी, क्वरंटाइन केंद्रों पर काम करने वाले शिक्षक एवं कर्मी का टीकाकरण किया जाएगा। तृतीय चरण के टीकाकरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्तियों एवं गंभीर बीमारी से ग्रस्त या समस्याग्रस्त व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाएगा।

वैक्सीनेशन के सफल क्रियान्वयन के लिए विभिन्न कोषांग भी किये गये हैं गठित:
कोविड टीकाकरण को लेकर जिला पदाधिकारी के द्वारा सत्र स्थल निरीक्षण कोषांग, कोविन पोर्टल कोषांग, एईएफआई कोषांग, जनसंपर्क कोषांग, सहित कर्मिक कोषांग आदि का गठन किया गया है और अलग अलग जिम्मेदारियां भी सौंपी गयी हैं। कोविन पोर्टल कोषांग के तहत कोविन पोर्टल में सभी गतिविधियों की निगरानी रखना एवं अद्यतन करना सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी दी गयी है। सत्र स्थल निरीक्षण कोषांग के दायित्वों के अंर्तगत टीका के पहले दिन शत- प्रतिशत निरीक्षण कर तैयारी सुनिश्चित कराने के लिए कहा गया है। एईएफआई प्रबंधन कोषांग के तहत किसी प्रकार की समस्या होने पर मगध मेडिकल कॉलेज में वार्ड सुनिश्चित करते हुए टीकाकृत व्यक्ति के समुचित इलाज उपलब्ध कराने आदि की व्यवस्था रखनी है।

– टीकाकरण पूर्ण रूप से सुरक्षित और असरदार है:-

सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया की टीकाकरण पूर्ण रूप से सुरक्षित और असरदार है| किसी प्रकार की टीकाकरण संबंधी जटिलता के लिए एइएएफआई किट मौजूद है| टीकाकरण के दौरान विधि व्यवस्था को बनाये रखने के लिए सभी सत्र स्थलों पर मजिस्ट्रेट भी मौजूद होंगे| उन्होंने कहा कि टीकाकरण को लेकर किसी भी प्रकार की अफवाहों का ध्यान नहीं दें| ऐसी अफवाहों को लेकर जिला नियंत्रण कक्ष को जानकारी दी जाये| कोविड टीकाकरण पर सुरक्षित माहौल बनाये रखने और सही रिपोर्टिंग मीडिया की भी जिम्मेदारी है| टीकाकरण सत्र स्थलों पर दिव्यांगों के लिए व्यवस्था ,. मास्क व हैंड सैनिटाइज की व्यवस्था के साथ कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करवाना जरूरी है|जनसंपर्क कोषांग के तहत कोविड 19 नियंत्रण के लिए टीकाकरण के विभाग स्तर से दिये गये निर्दशों फ्लैक्स, तथा मीडिया के माध्यम से आमलोगों के बीच जागरूकता लाने के लिए प्रचार प्रसार का काम किया जाना है। मीडिया के माध्यम से अथवा सोशल मीडिया में माध्यम से किसी प्रकार भ्रामक सूचना अथवा ऐसी सूचना का प्रसार जिससे आमलोगों के बीच भ्रांति पैदा हो अथवा भय का माहौल उत्पन्न हो, इसके लिए डीआइओ व एनआइसी तथा आईटी प्रबंधक के माध्यम से अनुश्रवण कर इसे दूर करने के लिए कार्रवाई करना है तथा भ्रामक सूचना के प्रसार के लिए कानूनी कार्रवाई करनी है। कर्मिक कोषांग का कोविड 19 नियंत्रण के लिए टीकाकरण के लिए गठित विभिन्न कोषांगों में आवश्यकतानुसार पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति सहित कोषांग के सभी पदाधिकारी व कर्मी की कोविड 19 के कार्य के लिए फोटोयुक्त पहचान पत्र निर्गत किया जाना है।

– इन मानकों का करें पालन, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :-
– साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।
– जहाँ-तहाँ नहीं थूके।
– मास्क और सैनिटाइजर का नियमित रूप से उपयोग करें।
– अनावश्यक यात्रा से परहेज करें।
– बाहरी खाना खाने से परहेज करें।
– गर्म व ताजा खाना का सेवन करें।
– भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
– साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से हाथ धोएं